Gujarat Polls: ‘केवल डबल इंजन ही क्यों, गुजरात को चाहिए ट्रिपल-इंजन की सरकार,’ बीजेपी से एक कदम आगे हार्दिक पटेल

0
15
स्वाति भान.

अहमदाबाद. बीजेपी अगर ‘डबल-इंजन’ की सरकार की बात करती है तो उनका नया चुनावी चेहरा हार्दिक पेटल उनसे एक कदम आगे की बात करते हैं. हार्दिक ‘ट्रिपल-इंजन’ की सरकार की बात करते हैं. उनका कहना है कि केवल राज्य और केंद्र सरकार ही क्यों, बल्कि, विधानसभा क्षेत्रों यानी जमीनी स्तर के नेताओं की सरकार भी इसमें शामिल होनी चाहिए. विकास के लिए मतदाताओं को बीजेपी में आस्था रखनी चाहिए.

News18 से खास बातचीत में हार्दिक पटेल ने कहा कि इस बार के गुजरात विधानसभा चुनाव में पूरा पाटीदार समुदाए बीजेपी के साथ है. साल 2017 में यह विभाजित था. लेकिन, इस बार सभी बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हैं. गुजरात में जमीन तलाश रही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को लेकर हार्दिक का कहना है कि जमीनी स्तर पर आप को कोई समर्थन नहीं मिलेगा. गुजरात में तीसरी पार्टी का प्रभाव नहीं है. यह चुनाव का वक्त है. हर पार्टी को चुनाव लड़ने और जनता को उन्हें सुनने का अधिकार है. लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है कि यह जनता वोट में बदल जाएगी.

बीजेपी को हर जाति का वोट- पटेल
उन्होंने कहा कि गुजरात में चुनाव का मतलब सिर्फ पटेल समुदाए के वोट से नहीं है. हर जाति बीजेपी में अपना विश्वास जता रही है. यह विश्वास है विकास और दूर-दृष्टि का है. बीजेपी, खासकर पीएम नरेंद्र मोदी का देश को लेकर एक सपना है. जनता उस पार्टी के साथ क्यों जाएगी जिसके पास देश को लेकर कोई सपना, कोई योजना ही नहीं है. पीएम मोदी जब गुजरात से सीएम तो उन्होंने एक सपने एक योजना के साथ राजनीति की और जब वह पीएम बने तो उसी सपने के साथ आगे बढ़े. यही कारण है कि लोग उन्हें पसंद करते हैं.

मेरा पूरा ध्यान विकास पर- हार्दिक
‘वह गुजरात विधानसभा में सबसे छोटी उम्र के विधायक होंगे,’ इस सवाल पर हार्दिक का कहना है कि उनका पूरा ध्यान वीरंगम विधानसभा क्षेत्र के विकास पर होगा. यहां पिछले दस सालों से कांग्रेस के विधायक है और इस इलाके में कोई विकास नहीं हुआ. जब मैं कहता हूं ‘ट्रिपल इंजन,’ इसका मतलब है कि केंद्र और राज्य की सरकार के साथ-साथ सत्ता पार्टी के सभी स्तर के नेताओं को उसमें शामिल करना. जब मैंने राजनीति में प्रवेश किया तो परिस्थितियां अलग थीं. मुझे अहसास हो गया कि वह गलत था. कांग्रेस गुजरात के गौरव और अस्मिता के खिलाफ थी. आज मैं गुजरात की अस्मिता की लड़ाई लड़ने पीएम मोदी के साथ खड़ा हूं.

Tags: Assembly Elections 2022, Gujarat Elections

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here