PoK वापस लेने की क्या है तैयारी? उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने दी बड़ी जानकारी – indian army preparing to take back pok northern command chief lt gen upendra dwivedi – News18 हिंदी

0
18


हाइलाइट्स

हमारा पड़ोसी देश यहां पर खलल डालने के लिए हर साजिश रच रहा है, हथियार भेज रहा है
सीमा पार से ड्रग्स भेजी जा रही है. हमने कई इलाकों में कई खेपों को पकड़ा है

पुंछ. जम्मू-कश्मीर के पुंछ लिंक अप डे के अवसर पर पुंछ पहुंचे उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने सीमा पार आतंकी कैंपों को लेकर बड़ा बयान दिया है. लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने कहा कि हम पीओके को लेकर पूरी तरह से तैयार हैं. उन्होंने कहा कि 160 आतंकी लांचिंग पैड पर हैं. 300 के करीब कुल आतंकी इस समय सीमा के उस पार सक्रिय हैं. उन्होंने कहा कि सीजफायर दोनों देशों के लिए अच्छा है, लेकिन अगर इसको तोड़ा गया तो हम ईंट का जवाब पत्थर से देने को भी तैयार हैं. उन्होंने कहा कि पीओके पर जैसे रक्षा मंत्री कह चुके हैं और ये पार्लियामेंट में रेज्यूलेशन भी पास हुआ है. इसमें नया कुछ नहीं है. पीओके को लेकर जहां तक भारतीय सेना की बात है तो हम पूरी तरह से तैयार हैं. जब सरकार आदेश देगी भारतीय सेना पूरी तैयार है.

उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने कहा कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब बदल चुके हैं. प्रशासन पूरी तरह से लोगों के हित के लिए काम कर रहा है. कश्मीर में आतंक के दिन बचे खुचे हैं और आतंकी गतिविधियों को खत्म करने में लोगों का समर्थन मिल रहा है. उन्होंने कहा कि 160 आतंकी लॉन्चिंग पैड पर हैं. नार्थ पीर पंजाल में 130 और साऊथ पीर पंजाल में 30 लॉन्चिंग पैड हैं. बाकी आतंकी अलग-अलग जगहों पर हैं. उन्होंने कहा कि ड्रोन को लेकर हम पूरी तरह तैयार हैं. हमने कई जगहों पर अपना सिस्टम लगाया है कि ड्रोन न आ सके. हम पूरी कोशिश में हैं कि हथियार आतंकियों के हाथ न पहुंचें, क्योंकि आतंकियों के पास हथियारों की कमी है. काउंटर ड्रोन सिस्टम लगाकर हम पूरी कार्रवाई कर रहे हैं.

लेह लद्दाख को लेकर सेना कमांडरों की बैठक
उन्होंने कहा कि हमारा पड़ोसी देश यहां पर खलल डालने के लिए हर साजिश रच रहा है. हथियार भेज रहा है. ड्रग्स भेज रहा है, ताकि यहां के युवाओं को इसमें धकेला जाए, लेकिन अब लोग इसका समर्थन नहीं करते हैं. इसमें शामिल होने वाले लोगों को सजा भी मिल रही है. लेह लद्दाख को लेकर हमारे और उनके कमांडर की कई बैठकें हुई हैं और वहां पर सेना की वापसी को लेकर कई राउंड हो चुके हैं. इसके सकारात्मक हल निकलेंगे.

सीमा पार से ड्रग्स भेज रहा पाकिस्तान
उन्होंने कहा कि सीमा पार से ड्रग्स भेजी जा रही है. हमने कई इलाकों में कई खेपों को पकड़ा है, जो आतंकी मारे गए हैं या पकड़े गए हैं वह भी ड्रग्स में शामिल रहे हैं. ये सब पाकिस्तान कर रहा है. आज जितने भी आतंकी बन रहे हैं उनमें युवा की आयु 20 साल के करीब है. हमें शिक्षा पर ध्यान देना होगा और परवरिश पर ध्यान देना पड़ेगा ताकि युवाओं को बाहर जाने का मौका मिले. हमने कई युवाओं को शिक्षा के लिए बाहर भेजा है.

युवाओं के हित में है अग्निवीर योजना
अग्निवीर योजना को लेकर लेफ्टिनेंट जनरल ने कहा कि ये युवाओं के हित में है. इस योजना की जरूरत देश को है. 25 साल के युवाओं को हम फौज में लेते हैं. एक कैरेक्टर सर्टिफिकेट देते हैं और कुछ को हम लेंगे और कुछ को पैरामिलिट्री फोर्स लेगी. कई राज्य की पुलिस में जाएंगे. कुछ अपना कारोबार करेंगे.

Tags: Indian army, Kashmir news, Pakistan terrorists, PoK



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here