Street Food: धनबाद में यहां मिलती है काजू-पिस्ता बादाम वाली चाय, नाम से खिंचे चले आते हैं लोग – street food cashew pistachio almond tea is available here in dhanbad people are attracted by the name itself – News18 हिंदी

0
21


मो. इकराम

धनबाद. आपने कई प्रकार के चाय के नाम सुने होंगे, लेकिन क्या काजू-पिस्ता बादाम वाली चाय का नाम सुना है? नहीं.. तो न्यूज़ 18 लोकल आपको बताएगा झारखंड के धनबाद शहर में मिलने वाली काजू-पिस्ता बादाम वाली खास चाय की खासियत. धनबाद-सिंदरी मुख्य मार्ग पर बनियाहीर के पास मुकेश कुमार की चाय की दुकान है. जहां वो लोगों को काजू व पिस्ता बादाम वाली चाय पिलाते हैं. मुकेश का दावा है कि धनबाद में इनकी चाय के स्वाद जैसी कहीं और चाय नहीं है.

मुकेश कुमार ने बताया कि वो पिछले 20 साल से चाय की दुकान चला रहे हैं. वर्ष 2017 में यहां गुलाबी व तंदूरी चाय की बिक्री शुरू होने के बाद उन्हें चाय के साथ प्रयोग करने की सूझी. उसके बाद उन्होंने चाय में काजू, पिस्ता-बादाम का बुरादा व इलायची डालकर प्रयोग किया तो लोगों को इसका स्वाद काफी अच्छा लगा. उसके बाद से काजू-पिस्ता बादाम चाय का सिलसिला जारी है.

चाय में होती है गाढ़ापन
उन्होंने कहा कि काजू व पिस्ता बादाम को ओखली (इमामदस्ता) में कूटकर बुरादा तैयार किया जाता है. इसे चाय के खौलने के बाद उसमें डाला जाता है. चाय में इसके स्वाद के साथ-साथ गाढ़ापन भी आता है जिसे लोग पसंद करते हैं. उन्होंने कहा कि धनबाद-सिंदरी मुख्य मार्ग पर दुकान होने की वजह से लोग यहां रूक कर चाय की चुस्कियां लेते हैं.

इतनी है चाय की कीमत
मुकेश कुमार ने कहा कि उनकी दुकान पर रोजाना 50 किलो दूध की खपत हैं. जबकि 750 ग्राम काजू व 500 ग्राम पिस्ता-बादाम लग जाते हैं. चाय की कीमत बड़ी प्याली में 10 रुपये व छोटी प्याली में पांच रुपये है. लोग बड़े चाव से इस चाय का स्वाद लेते हैं.

नाम से पता चलती है खासियत
चाय की चुस्की ले रहे राहुल कुमार ने बताया कि चाय में काजू व पिस्ता-बादाम का स्वाद आता है. साथ ही गाढ़ापन भी रहता है. इतनी स्वादिष्ट चाय घर पर भी नहीं बन पाती है. वहीं, एजाज अहमद ने कहा कि नाम से ही इस चाय की खासियत का पता चलता है. इलाके में इसका स्वाद काफी प्रसिद्ध है. ठंड के दिनों में चाय पीने वालों की भीड़ यहां बढ़ जाती है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here