Saturday, July 2, 2022
HomeदेशWeather Update: मैदानों ही नहीं पहाड़ों में भी रिकॉर्ड तोड़ रहा है...

Weather Update: मैदानों ही नहीं पहाड़ों में भी रिकॉर्ड तोड़ रहा है पारा, न्यूनतम तापमान में 7 डिग्री की बढ़त


पिथौरागढ़. ग्लोबर वार्मिंग का असर कहें या क्लाइमेट चेंज लेकिन देश भर के मैदानी इलाकों में बढ़ती गर्मी ने अब पहाड़ों को भी अपनी जद में ले लिया है. तेजी से बढ़ता तापमान रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड तोड़ रहा है. हालात इतने खराब हैं कि उत्तराखंड के कई इलाकों में इस साल न्यूनतम तापमान पिछले साल की तुलना में 7 डिग्री तक ज्यादा दर्ज किया गया.
आमतौर पर इन दिनों पहाड़ों में सैलानी मैदान की झुलसाती गर्मी से निजात पाने लिए आते थे. लेकिन इस बार पहाड़ का मौसम पूरी तरह बदल गया है. पहाड़ों में जून का महीना शुरू होने के साथ ही पारा आसमान चढ़ने लगा है. हालात ये हैं कि लगातार बढ़ रहे पारे ने पिछले सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर डाले हैं. पिछले साल जहां मई में अधिकतम तापमान 29.6 डिग्री दर्ज किया गया था, वो इस साल बढ़कर 32.3 ‌डिग्री तक जा पहुंचा है. जबकि जून के पहले हफ्ते में ही अधिकतम तापमान में 3 डिग्री का इजाफा हो चुका है.

पहाड़ों में सबसे तेजी से न्यूनतम तापमान में इजाफा हो रहा है. बीते साल मई में न्यूनतम तापमान 11.6 डिग्री था, जो इस बार 12.3 डिग्री जा पहुंचा है. जबकि जून के पहले हफ्ते में ही न्यूनतम तापमान बीते साल के मुकाबले 7 डिग्री बढ़ा है. नैनीताल, मुक्तेश्वर, मसूरी, पिथौरागढ़ और अल्मोड़ा जैसे इलाकों में तापमान सामान्य से 6 डिग्री तक बढ़ चुका है. लगातार चढ़ रहे पारे को जानकार काफी खतरनाक मान रहे हैं. खासकर पानी और खरीफ के फसलों के लिए.

बढ़ेगा पानी का संकट
विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान के मुख्य वैज्ञानिक डॉ. जेके बिष्ट का कहना है कि अगर मौसम का मिजाज ऐसा ही रहा तो, तय है कि पानी का तो संकट बढ़ेगा ही साथ ही खरीफ की फसलों की उपज भी खासी प्रभावित होगी. बीते कुछ सालों में पहाड़ों में जहां सर्दियों में जमकर ठंड पड़ रही है, वहीं बरसात में भारी बारिश भी हो रही है. अब गर्मियों में पारा भी लगातार चढ़ता ही जा रहा है. जिससे साफ साबित होता है कि ग्लोबल वार्मिंग का असर अब हर सीजन में देखने को मिल रहा है. ऐसे में अगर पर्यावरण को लेकर सभी गंभीर नही हुए तो आने वाले दिनों में हालात और भी भयावह हो सकते हैं.

Tags: Uttarakhand weather, Uttarakhand Weather Alert



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments