सेल्समैन की मनमानी से लोग हो रहे है परेशान

0
120

पवन सिसोदिया
भगोर(झाबुआ) – शासकिय उचित मूल्य की दुकान पर सेल्समैन सोहनलाल कत्था की मनमानी से लोग काफी परेशान हो रहे है । लोगो का आरोप है कि सेल्समैन पात्रता पर्ची के अनुसार अनाज का वितरण नही करता है । और केंद्र और राज्य दोनों की ओर से प्राप्त अनाज को मान्यता अनुसार भुगतान नही । वही नियमानुसार सभी को हर माह का अनाज मिलना चाहिए परन्तु लोगो को 2 से 3 माह तक का अनाज अप्राप्त है । ग्राम के अनिल मेडा का कहना है कि सेल्समैन नियमित दुकान नही खोलता है और मात्र 2 दिन में अनाज वितरण कर भाग जाता है । मुझे खुद ही गत 2 माह अनाज नही दिया गया । मांगने पर कहते है कि तुम जब दुकान खोलते हे तब क्यो नही आते हो ।जबकि सेल्समैन माह में मात्र दो दिन , वो भी खुद की मनमर्जी से दुकान खोलता है । और हमे मालूम ही नही हो पाता। ऐसे में कई लोग अनाज प्राप्ति से वंचित रह जाते है । ग्राम के मुन्ना का कहना है कि जो लोग पलायन पर है उनका अनाज ये खुद हड़प जाते है । क्योकि अनाज तो ग्राम के व्यक्तियों के हिसाब से आता है । फिर वो जाता कहा है। सेल्समैन खुलेआम कालाबाजारी करता है । बेचारे लोग अज्ञानता के अभाव में अनाज प्राप्त नही कर पाते। महिला वसनी ने बताया कि उसके घर मे 10 सदस्य है उसके मान से उन्हें 2 माह का 1 क्विंटल अनाज मिलना था । पर मात्र 40 किलो ही अनाज उन्हें दिया गया । बोलने पर उन्हें घुड़कियाँ देकर भगा दिया गया है ।बोला कि अभी कम आवंटन है । बाद में चावल दिए जावेंगे । इस सभी बातों के संदर्भ में जब भगोर सेल्समैन सोहनलाल कत्था से बात की गई तो वे हर मामले की सफाई देते रहे । बोले हम लोगो को बराबर अनाज देते है , दुकान भी खोलते है । लोगो के आरोप अनर्गल है । वैसे पूरे मामले में देखा जाए तो आज दुकान पर लोगो की बहुत ज्यादा भीड थी और कोरोना गाइड लाइन का कोई भी पालन नही होरहा था । लोग बिना मास्क के ही घूमते नजर आ रहे थे । ओर सेल्समेन अपनी मनमानी कर ग्रामीणों के हक का अनाज डकारने में लगा है । प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि काला बाजारी नही चलेगी ओर लोगो का हक का अनाज हड़पने वालो को बख्शा नही जावेगा । अब देखना है कि आज की इस खबर के बाद प्रशासन क्या कार्यवाही करता है । या मामले को दबा दिया जाएगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here