मध्य प्रदेश गान मे फिर नहीं आया मां ताप्ती का नाम

0
63

(अल्ताफ अहमद की खबर)
बैतूल जिले में नहीं गुंंजा मध्यप्रदेश गान में ताप्ती का नाम
संस्कृति विभाग एवं जन संपर्क विभाग की सामने आई लापरवाही
बैतूल,


जिले में 1 नवम्बर को मध्यप्रदेश के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मध्यप्रदेश गान में गान के रचियता महेश श्रीवास्तव द्धारा संशोधित वह पंक्तियों का न तों गायन हुआ और न प्रसारण हुआ। साऊण्ड सिस्टम पर जो गाना बचा उसमें बैतूल जिले की जीवनरेखा पुण्य सलिला माँ सूर्यपुत्री ताप्ती का नाम नहीं था।
मध्यप्रदेश गान में ताप्ती के नाम को जोडऩे के लिए लम्बी लडाई लडऩे वाले रामकिशोर पंवार प्रदेश अध्यक्ष माँ सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति ने इस लापरवाही के लिए मध्यप्रदेश सरकार के लोक संस्कृति एवं जन संपर्क विभाग के अधिकारियों के विरूद्ध माँ ताप्ती के मान – सम्मान को ठेस पहुंचाने के लिए अपने कतव्र्य में लापरवाही का प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही की मांग की है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने वादा किया था कि मध्यप्रदेश गान में ताप्ती का नाम जुड़ेगा। वादा मूर्त रूप मे भी आया लेकिन गाना की वाइस रिेकाडिंग गायक द्धारा नहीं किए जाने एवं गाना अपडेट न होने के कारण वही पुराना गाना इस बार भी बजाया गया।


इधर आम आदमी पार्टीी

के जिलाध्यक्ष अजय सोनी ने कहा कि
बाइट – अजय सोनी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here